Skip to main content

Freedom251 - offer ya ghotala

             फ्रीडम 251          

सावधान घोटाला होने वाला है -
   ये सस्ता मोबाइल का क्लेम करने वाला फ़्रीडम 251 घोटाले के सिवा और कुछ नहीं.
   रिंगिंग बेल एक फ़्रॉड कम्पनी के सिवा कुछ और नहीं है । इस बात की पूरी सम्भावना है कि हमारे हिंदुस्तान के अंदर सस्ते मोबाइल फ़्रीडम 251- जिसका मूल्य 251 रुपए है देने के के नाम पर बहुत बड़ा घपला हो जाये ।

    सावधान रहिये ये एकदम नई कम्पनी है जिसके बारे में कहीं भी कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है. और इंटरनेट पर भी केवल 4-5 पन्नो में ही  विवरण आ रहा है. इस कम्पनी की स्थापना अभी  पिछले वर्ष सितम्बर में ही  हुआ है और इसका वेबसाइट www.freedom251.com पिछले महीने में हीं ख़रीदा गया है. और यह तय है की सस्ते मोबाइल के नाम पर ये 100% घोटाले का हीं काम है.
इसी कम्पनी ( ringing bells.co.in ) ने अभी इसी महीने फ़रवरी में एक स्मार्टफ़ोन रुपए 2999/- में बेचने की कोशिश की पर 10 लोगों का भी ऑर्डर कन्फ़र्म नहीं हुआ. और इस कम्पनी का कोई जवाब भी नहीं आया और इनके द्वारा दिए गए किसी भी नम्बर पर कोई कॉल रिसीव नहीं करता. ईमेल भी बाउन्स बैक हो जाता है. लोग शिकायत कर रहे हैं उन्हें भी इस घोटाले में फँसाया गया और अब यही कम्पनी ऐसे हीं फ़ीचर( 4g की जगह 3G) रुपए 251/- में देने की बात कर रही है ये घोटाला के सिवा और कुछ नहीं दिख रहा.
    तो कृपया सावधान रहें. ये देखिए किस आसानी से और कितना बड़ा गोलमाल हो सकता है:-
  अगर रुपए 251/- भाव से भी हिंदुस्तान के सिर्फ़ 1000000 ( 10 लाख ) लोगों ने भी बुक किया तो 251000000 ( पच्चीस करोड़ दस लाख ) सिर्फ़ दो- चार पेज की वेब साइट / न्यूज़ पेपर ऐड देकर बना लेगी.
  कम्पनी इस चक्कर में है कि छोटी रक़म समझ कर कोई कुछ नहीं करेगा और भूल जाएगा ,और शायद यही होगा भी ............
   अपने 251/- रुपए बचाइए और इस घोटाले का हिस्सा बनने से बचीए.
  कम्पनी आज सुबह 6 बजे से इसकी बुकिंग शुरू की  है,
आशा है कि मेरे इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोग पढ़ेंगे और शेयर भी करेंगे ताकि सभी लोग इस गोलमाल को समझ सके और मूर्ख बनने से बच सके.

धन्यवाद 🙏

आपका दोस्त - सुमित सेठ
Post a Comment

Popular posts from this blog

नारी है या लाचारी

नारी है या लाचारी


नारी का होना नारी
जैसे सबसे बड़ी लाचारी है ।
मानवता तो ख़त्म हो रही
दानवता सब पर भारी है ।

सर्वप्रथम तुम कोख में मारते
जो पता लगा की बच्ची है ।
आखिर क्यों नही तुम समझते
यही  संतान तुम्हारी सच्ची है ।

जो बच गई कोख में फिर भी
शोषणता इसकी जारी है ।
मानवता तो ख़त्म हो रही
दानवता  सब पर भारी है ।

उसका हंसना और मुस्कुराना
सब पे तुम्हारी पाबन्दी है ।
क्यों करते हो तुम आखिर ये सब
क्यों सोच तुम्हारी गन्दी है।

बेटियों को तुम कब तक
इस तरह छिपाओगे ।
आखिर कब तुम खुद चेतोगे
कब बेटों को समझाओगे ।


बेटियो को टोकने की बजाय
बेटो से  तुम ये कह जाओ ।
प्यारी है कोमल है ये बेटीयाँ
तुम बेटों इन्हें बचाओ ।
तुम बेटों इन्हें बचाओ- अपनी मानवता को दिखलाओ।


जब इन बेटों ने ही बढ़ कर
थाम ली जिम्मेदारी

तब से ना कभी रोयेगी
हमारी बिटिया रानी- हमारी बिटिया रानी



सुमित कुमार सोनी

Facebook- सुमित कुमार सोनी
Whatsapp-  9450489148
Instagram - Sumit soni
Twitter - Sumit soni

रूठी है जिंदगी .....

रूठी है जिंदगी .......





आज जिंदगी कुछ रूठी सी लग रही है
रात तो आधी बीत गई है 
पर आँखे मेरी अब भी जग रही है 
आज जिंदगी कुछ रूठी सी लग रही है


आंसुओ का दरिया आँखों से बह रहा
मेरे दिल से दर्द का लावा निकल रहा 
अब तो सांसे भी छूटी छूटी सी लग रही है 
आज जिंदगी कुछ रूठी सी लग रही है


लग रहा ये सफर अब थम ही जायेगा
ना वो अपना अब मेरे पास आएगा 
अब हर सच्ची कहानी भी झूठी सी लग रही 
आज जिंदगी कुछ रूठी सी लग रही है 


आकर थाम लो , तुम मेरे हाथ को 
तड़प रहा हूँ मैं अब तेरे साथ को 
अरमानो की दिल में चिता जल रही है
आज जिंदगी कुछ रूठी सी  लग रही है


               - सुमित सेठ
सुमित कुमार सोनी (फेसबुक)
.twitter

वो शख्श

अनजान रह गया वो
शख्श जिंदगी में  जिसने औरो की फिक्र में  जिंदगी गुजार दी ।।
गरीब रह गया वो  शख्श जिंदगी में जिसने औरो की जरुरत पर अपनी उधार दी ।।
वो तो मिटता रहा  लोगो की खुशियों पर लोगो ने मिल कर  उसकी दुनिया उजाड़ दी ।।
वो तो लगाता रहा उम्र भर चाहत के फूल  लोगो ने मिलकर  उसकी बगिया ही उजाड़ दी ।।
फैलता रहा वो हरदम  प्रकाश सबके जीवन में सबने मिलकर उसकी जिंदगी  घुप्प अंधेरो में पाट दी ।।       आपका मित्र - सुमित सोनी