One liners


अजीब कश्मकश है जिंदगी की यारो 
जिनसे मिन्नतें करो साथ रहने की 
वही अक्सर दुहाई देकर परे हट जाते है 

†††††††††††††††††††††††††††††††††††††††††

हमारा भी जिक्र होना चाहिए मुहब्बत के फसानों में 
.
.
.
.
.आखिर हीर और राँझा ही कब तक गुनगुनाते रहोगे।

†††††††††††††††††††††††††††††††††††††††††

Post a Comment